Navodayans Join@

Navodayans login @ All India Navodaya Alumni Website navodaya.net

नवोदय प्रार्थना
 
 

 

 

हम नवयुग की नई भारती, नई आरती !
हम स्वराज्य की रिचा नवल, भारत की नवलय हों 
नव सूर्योदय, नव चंद्रोदय, हमी नवोदय हों !!


रंग जाति पद भेद रहित, हम सब का एक भगवान हो 
संतान हैं धरती माँ की हम, धरती पूजा स्थान हो ! 
पूजा के खिल रहे कमल दल, हम भव जल में हो 
सर्वोदय के नव बसंत के, हमी नवोदय हो !!

मानव हैं हम हलचल हम, प्रकृति के पावन वेश में 
खिलें फलें हम में संस्कृति इस, अपने भारत देश की ! 
हम हिमगिरि हम नदियाँ हम, सागर की लहरें हो 
जीवन की मंगलमाटी के, हमी नवोदय हो !! 

हरी दूधिया क्रांति शांति के, श्रम के वंदनवार हो 
भागीरथ हम धरती माँ के, सूरम पहरेदार हो !
सत शिव सुन्दर की पहचान, बनाए जग में हम 
अंतरिक्ष के यान ग्यान के, हमी नवोदय हो !!

हम नवयुग की नई भारती, नई आरती 
हम स्वराज्य की रिचा नवल, भारत की नवलय हों! 
नव सूर्योदय नव चंद्रोदय, हमी नवोदय हों 
हमी नवोदय हो, हमी नवोदय हो, हमी नवोदय हो !!

Regards,
Roushan

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s